11 मई को राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस क्यों मनाया जाता है? NATIIONAL TCHNOLOGY DAY ।

National Technology Day 2021: 11 मई को राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस क्यों मनाया जाता है?

आज के इस आर्टिकल में राष्ट्रीय प्रोद्योगिकी  दिवस (National Technology Day) के बारे में जैसे-राष्ट्रीय प्रोद्योगिकी दिवस क्यों मनाया जाता है?,राष्ट्रीय प्रोद्योगिकी कब मनाया जाता है और  राष्ट्रीय प्रोद्योगिकी से जुड़े  पुरस्कारों आदि के बारे में जानेंगे।

विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय इस दिन प्रत्येक साल 11 मई को राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस मनाता है. प्रौद्योगिकी एवं विज्ञान मंत्रालय के द्वारा उनके विभाग में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित कराये जाते हैं।राष्ट्रीय प्रद्योगिकी दिवस के लिए टेक्नोलॉजी डेवलपमेंट बोर्ड (TDB) प्रतिवर्ष एक थीम का चुनाव करती है ,राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस के 2021 का थीम "एक सतत भविष्य के लिए विज्ञान और प्रोद्योगिकी-SCIENCE  AND TECHNOLOGY FOOR A SUSTANABLE FUTURE." चलिए आज जानते हैं की राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस क्यों मनाता है? राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस को विस्तार से समझने के लिए नीचे दिए गये सभी बिंदु को ध्यान पूर्वक पढ़ें -


                              11 मई को राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस क्यों मनाया जाता है? NATIIONAL TCHNOLOGY DAY ।


Table of Content:- 

  • National Technology Day 2021 – 
  • राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस क्यों मनाता है? 
  • राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस के बारे में 
  • राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी पुरस्कार 
  • हंस-3 ने भरी थी उड़ान 
  • त्रिशूल मिसाइल

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस (National Technology Day in Hindi)-

भारत में प्रत्येक साल 11 मई को राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस के रूप में मनाया जाता है. यह दिन भारत की विज्ञान में दक्षता एवं प्रौद्योगिकी में विकास को दर्शाता है. इस दिन राष्ट्र गौरव के साथ-साथ देश अपने वैज्ञानिकों की उपलब्धियों को भी याद करता है. विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय इस दिन प्रत्येक साल राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस मनाता है. प्रौद्योगिकी एवं विज्ञान मंत्रालय के द्वारा उनके विभाग में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित कराये जाते हैं. इस दिवस को तकनीकी रचनात्मकता, वैज्ञानिक जांच, उद्योग और विज्ञान के एकीकरण में किये गये प्रयास के प्रतीक माना जाता है.

पढ़ें- भारत में मिसाइल टेक्नोलॉजी। 

भारत में राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस क्यों मनाता है(Why India celebrates National Technology Day?)-

भारत में राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी से सम्बन्धित संस्थानों में भारत की प्रौद्योगीकीय क्षमता के विकास को बढ़ावा देने के लिए इस दिवस को मनाते हैं. इस दिन भारत में निर्मित देश के पहले एयरक्राफ्ट हंस 3 ने 11 मई को सफलतापूर्वक उड़ान परीक्षण किया था. भारत में बना "त्रिशूल मिसाइल" का सफल परीक्षण भी 11 मई को हुआ था. इसलिए भारत राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस प्रत्येक साल मनाता है.

जानें- भारत में परमाणु ऊर्जा की जानकारी।

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस के बारे में(About National Technology Day)-

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस की शुरुआत साल 1998 में हुए पोखरण परमाणु टेस्ट से हुई थी. भारत ने साल 1998 में '11 मई' के दिन ही "अटल बिहारी वाजपेयी" के कार्यकाल में अपना दूसरा सफल परमाणु परीक्षण किया था. यह परमाणु परीक्षण पोखरण, राजस्थान में किया गया था. प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में एक बहुत बड़ी उपलब्धि प्राप्त होने के उपलक्ष्य में ही राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस मनाया जाता है.

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी पुरस्कार (National Technology Award)-

भारत के राष्ट्रपति इस अवसर पर राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी पुरस्कार भी प्रदान करते हैं. यह पुरस्कार इस क्षेत्र में अभूतपूर्व काम करने वाले व्यक्ति को दिया जाता है.

हंस-3 ने भरी थी उड़ान(Hans-3 had taken flight)-

भारत के स्वदेशी विमान हंस ने 1998 में इसी दिन उड़ान भरी थी। हंस-3 को नैशनल एयरोस्पेस लैबोरेटरीज द्वारा विकसित किया गया था। वह दो सीटों वाला हल्का सामान्य विमान था। उसका इस्तेमाल पायलटों को प्रशिक्षण देने, हवाई फोटोग्राफी, निगरानी और पर्यावरण से संबंधित परियोजनाओं के लिए होता है।

जानें- जानिए भारतीय वायुसेना के बारे में। 

त्रिशूल मिसाइल (Trishul missile)-

11 मई, 1998 को ही रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) ने त्रिशूल मिसाइल का आखिरी परीक्षण किया था। फिर उस मिसाइल को भारतीय वायुसेना और भारतीय थलसेना में शामिल किया गया था। त्रिशूल जमीन से हवा में मार करने वाले मिसाइल है जो तेज प्रतिक्रिया देती है। यह छोटी दूरी की मिसाइल है। त्रिशूल को भारत के एकीकृत निर्देशित मिसाइल विकास कार्यक्रम के तहत तैयार किया गया था। इसी परियोजना के तहत पृथ्वी, आकाश और अग्नि मिसाइलों को बनाया गया।


आज के इस आर्टिकल में आपने राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस के बारे में विस्तार से जाना।  विज्ञान एवं प्रोद्योगिकी से जुड़े प्रश्न प्रतियोगी  परीक्षाओं में भी पूछे जाते हैं। राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस करंट अफेयर्स से जुड़ा एक महत्वपूर्ण टोपिक  है 

आशा करता हूँ कि यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित होगी ,अगर आपको आर्टिकल पसंद आये तो आर्टिकल को शेयर अवश्य करें।

10 MaySTUDY POINT & CAREER