दुनिया भर के पवित्र स्थल (Holy Places Around The World in Hindi।)

दुनिया भर के पवित्र स्थल(Holy Places Around The World)

आज के इस पोस्ट में दुनिया भर के पवित्र स्थलों के बारे में जानेंगे। दुनिया भर के पवित्र स्थल प्रमाण हैं मानव इतिहास की, दुनिया भर के पवित्र स्थल उन महापुरुषों और उनसे जुड़े धर्म के बारे में बताते हैं जो कभी इस पृथ्वी पर सक्रिय था। दुनिया भर के पवित्र स्थल  से सम्बंधित प्रश्न विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं जैसे-UPSC,STATE PCS,RRB,NTPC,SSC,RAILWAY,BANKING PO,BANKING CLERK इत्यादि में पूछे जाते हैं।

    दुनिया भर के पवित्र स्थल में हम  जानकारी देखेंगे:-

    काशी विश्वनाथ मंदिर (Kashi Vishwanath Temple):-

    Kashi Vishwanath Temple
    काशी विश्वनाथ मंदिर

    काशी विश्वनाथ मंदिर- भारत प्रतिष्ठित काशी विश्वनाथ मंदिर गंगा नदी के तट पर स्थित है। इस हिंदू मंदिर को भगवान शिव को समर्पित 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक के रूप में चिह्नित किया गया है। काशी विश्वनाथ मंदिर वाराणसी की सांस्कृतिक धरती पर बसता है, जिसे काशी के नाम से भी जाना जाता है। यही कारण है कि मंदिर का नाम काशी विश्वनाथ मंदिर रखा गया है। काशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन करने के लिए आदि शंकराचार्य, सन्त एकनाथ रामकृष्ण परमहंस, स्‍वामी विवेकानंद, महर्षि दयानंद, गोस्‍वामी तुलसीदास सभी का आगमन हुआ हैं। 

    तख्तसंग या टाइगर्स नेस्ट मॉनस्ट्री भूटान (Takhtsang, Bhutan):-

    Takhtsang, Bhutan
    तख्तसंग या टाइगर्स नेस्ट मॉनस्ट्री भूटान

    टाइगर्स नेस्ट मॉनस्ट्री भूटान- भूटान के सबसे प्रसिद्ध मठों में से एक टाइगर्स नेस्ट मॉनस्ट्री है। इस बौद्ध मठ को तक्तसंग भी कहा जाता है। भूटान की पारो घाटी से 900 मीटर एक ऊंची चट्टान पर यह टंगा सा दिखता है। ताकत्संग को 1692 में एक गुफा के स्थान पर बनाया गया था, जहां गुरु रिनपोचे- या दूसरे बुद्ध ने बुराई को दूर करने के लिए "तीन साल, तीन महीने और तीन घंटे" के लिए ध्यान लगाया था। अब तख्तसंग  या टाइगर्स नेस्ट मॉनस्ट्री भूटान में बौध धर्म के प्रचारको का निवास स्थान हैं ।(यह भी पढ़े- सम्राट अशोक से जुडी रोचक बातें )

    नासिर अल-मुल्क मस्जिद, ईरान (Nasser Al-Mulk Mosque, Iran):-

    Nasser Al-Mulk Mosque, Iran
    नासिर अल-मुल्क मस्जिद

    नासिर अल-मुल्क मस्जिद- ईरान के शिराज में नासिर अल-मुल्क मस्जिद, रंगों की शानदार सरणी के लिए प्रसिद्ध है। इसे 'द पिंक मस्जिद' के नाम से भी जाना जाता है। जैसे ही उगते हुए सूरज की किरणें इस पर पड़ती हैं तो इसके अंदर जन्नत का नजारा प्रकट होता है। सुबह की रोशनी का लाभ उठाने के लिए 1988 में इसे ईरान के शासक मिर्जा हसन अली नाकिर अल मुल्क ने बनवाया था। नासिर अल-मुल्क मस्जिद की खूबसूरती पर्यटकों का ध्यान अपनी और आकर्षित करती हैं ।

    स्वर्ग का मंदिर, चीन (Temple of Heaven, China):-

    Temple of Heaven, China
    स्वर्ग का मंदिर

    स्वर्ग का मंदिर- मिंग और किंग राजवंशों के सम्राटों ने फसलों के बेहतर उत्पादन के लिए भगवान से प्रार्थना करने के लिए इस धार्मिक परिसर का दौरा किया। मंदिर में एक अद्भुत संरचना है, जो 2.73 किमी के क्षेत्र में फैली हुई है, और इसमें निर्माण के तीन मुख्य समूह शामिल हैं, जिनमें हॉल ऑफ प्रेयर, इंपीरियल वॉल्ट ऑफ हेवन और सर्कुलर माउंड वेदी शामिल हैं।

    यह भी पढ़े:- विश्व की प्राचीन सभ्यताओं को जाने, परीक्षाओ में पूछे जाते हैं इनसे सवाल 

    हरमंदिर साहिब (स्वर्ण मंदिर) Harmandir Sahib (Golden Temple):-

    Harmandir Sahib (Golden Temple)
    स्वर्ण मंदिर

    हरमंदिर साहिब- भारत सिखों का यह धार्मिक स्थल अपनी संरचना और भक्तों की भारी भीड़ के लिए लोकप्रिय है। परंपरा के अनुसार, ऊंचे स्थान पर गुरुद्वारा बनाने की बजाय निचले स्तर पर इसे बनाया गया था। इस पवित्र स्थल में प्रवेश करने के लिए भक्तों को नीचे उतरना पड़ता हैयह समानता और भाईचारे का प्रतीक है। हरमंदिर साहिब पवित्र स्थल मन को शांति प्रदान करता है। यह गुरुद्वारा इसी सरोवर के बीचोबीच स्थित है। हरमंदिर साहिब गुरुद्वारे का बाहरी हिस्सा सोने का बना हुआ है, इसलिए इसे 'स्वर्ण मंदिर' के नाम से भी जाना जाता है।

    सेंट बेसिल कैथेड्रल (Saint Basil's Cathedral):-

    Saint Basil's Cathedral
    सेंट बेसिल कैथेड्रल

    सेंट बेसिल कैथेड्रल- रूस सेंट बेसिल कैथेड्रल रूस में मॉस्को शहर के रेड स्क्वायर में एक लोकप्रिय चर्च है। इस चर्च की शानदार वास्तुकला आसमान में उठने वाली अलाव की लौ की तरह बनी है। इसके डिजाइन की रूसी वास्तुकला से कोई तुलना नहीं है। इस पवित्र स्थान की जटिलता और विस्मय लोगों को अचंभित कर देता है।

    लोटस टेंपल (Lotus Temple):-

    Lotus Temple
    लोटस टेंपल

    लोटस टेंपल- भारत नई दिल्ली में स्थित लोटस टेंपल एक सफेद रंग की संरचना है, जो कमल के फूल के आकार में बनी है। लोटस टेंपल में  9 पंखुड़ियों की 3 परतें हैं, जो दुनिया के 9 मुख्य धर्मों का प्रतिनिधित्व करती हैं। वर्ष 1980 में निर्मित, यह इमारत सुव्यवस्थित हरे-भरे बगीचों के बीच स्थित है और सभी धर्मों के लोग यहां बड़ी संख्या में आते हैं।

    मृत सागर, इजराइल (dead sea, israel):-

    dead sea, israel
    मृत सागर

    मृत सागर, इजराइल- इजराइल का मृत सागर समुद्र तल से 1290 फीट नीचे पृथ्वी पर सबसे कम ऊंचाई पर स्थित है। पानी नियमित समुद्री जल की तुलना में दस गुना अधिक खारा होता है और आसपास की हवा में ऑक्सीजन की मात्रा अधिक होती है। माना जाता है कि मृत सागर स्थान पृथ्वी पर सबसे अधिक उपचार करने वाले स्थानों में से एक है। इसके खनिजों का उपयोग अक्सर चिकित्सा उपचार के लिए किया जाता है - त्वचा पर चकत्ते से लेकर गठिया तक हर चीज का इलाज इससे हो सकता है।

    दुनिया भर के पवित्र स्थल | Holy Places Around The World की इस जानकारी में हमने आपको दुनिया भर के पवित्र स्थल के बारे में सटीक जानकारी देने की कोशिस की. यदि आपको यह दुनिया भर के पवित्र स्थल की जानकारी सही और उपयोगी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें. 

    इन्हें भी जरूर पढ़े:-

    22 SeptemberSTUDY POINT & CAREER