Active Study Educational WhatsApp Group Link in India

दुनिया के प्रसिद्ध वैज्ञानिक (famous scientists of the world in hindi)

दुनिया के प्रसिद्ध और जाने माने वैज्ञानिक | famous scientists of the world

विश्व के प्रसिद्ध वैज्ञानिक और आविष्कारकों में जिनका नाम सुमार है। जिन वैज्ञानिकों के नाम हमने और आपने सुना है, इस पोस्ट में हम उन्ही प्रसिद्ध और महान वैज्ञानिकों के बारे में बताने वाले हैं। 

वैसे देखा जाये तो विश्व भर में ऐसे कई प्रसिद्ध वैज्ञानिक हुए हैं जिन्होंने अपने आविष्कार के जरिये मानव जीवन को प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से आसन बनाया हैं.

इस पोस्ट में 18 वैज्ञानिको के बारे में ही जानकारी दी गयी है, जिसे जानने के बाद आपके मन में in महान विअग्यानिक और इनके खोज के बारे में जानने की जिज्ञासा पैदा होगी परन्तु यह लिस्ट लंबी भी हो सकती है।

दुनिया के कुछ प्रसिद्ध वैज्ञानिक - फोटो के साथ

01 - अलेक्जेंडर फ्लेमिंग :

अलेक्जेंडर फ्लेमिंग (Alexander Fleming) पेनिसिलिन के आविष्कारक के रूप में ज्यादा प्रशिद्ध हुए। इनका जन्म 6 अगस्त 1881 को हुआ, स्कॉटलैण्ड के जीववैज्ञानिक एवं औषधिनिर्माता थे। इन्होने लिसोजाइम (lysozyme) नामक एंजाइम की खोज भी की थी। पेनिसिलिन के आविष्कार के लिये अलेक्जेंडर फ्लेमिंग को सन् 1945 में संयुक्त रूप से चिकित्सा का नोबेल सम्मान दिया गया था।

02 - अल्बर्ट आइंस्टीन :

अल्बर्ट आइंस्टीन (Albert Einstein) जर्मनी में जन्मे तथा अमेरिका में जा बसे। यह महान वैज्ञानिक गणित और भौतिकी के विद्वान थे। इन्होंने सापेक्षता के सिद्धांत, क्वांटम सिद्धांत तथा प्रकाश पर कार्य किया। ये अमेरिका द्वारा परमाणु बम का विकास करने में भी शामिल रहे। आइंस्टीन ने कई पुरस्कार और सम्मान प्राप्त किए और 1922 में उन्हें भौतिकी में "सैद्धांतिक भौतिकी के लिए अपनी सेवाओं, और विशेषकर प्रकाशवैधुत प्रभाव की खोज के लिए" नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

देखें >> दुनियाभर के वैज्ञानिकों की सूची

03 - आर्कमिडीज :

आर्कमीडिज (Archimedes) ई.पू. तीसरी शताब्दी के यूनान के गणितज्ञ तथा भौतिकविद थे। अपने समय के महान खगोलशास्त्री फाइडियाज इनके पिता थे। आर्कमीडिज को एक सर्वकालिक महान गणितज्ञ माना जाता है। उन्हें न केवल अपने आविष्कारों के कारण प्रसिद्धि मिली बल्कि उन्हें आकर्षक तरीके से बनाने की सोच के कारण भी ख्याति प्राप्त हुई। इन्होंने सांख्यिकी के विज्ञान की नींव रखी तथा स्क्रयू पम्प और प्लेनेटेरियम का आविष्कार किया।

04 - आर्यभट :

आर्यभट (Aryabhata) प्राचीन भारत के एक महान ज्योतिषविद् और गणितज्ञ थे। आर्यभट्ट ने ही सैद्धांतिक रूप से यह सिद्ध किया था कि पृथ्वी गोल है और यह अपनी धुरी पर घूमती है, जिसके कारण रात और दिन होते हैं। इसी तरह अन्य ग्रह भी अपनी धुरी पर घूमते हैं जिनके कारण सूर्य और चंद्रग्रहण होते हैं। इन्होंने आर्यभटीय ग्रंथ की रचना की जिसमें ज्योतिषशास्त्र के अनेक सिद्धांतों का प्रतिपादन है।

05 - एंटोनी वॉन ल्यूवेन्हॉक :

एंटोनी वॉन ल्यूवेन्हॉक (Antonie van Leeuwenhoek) एक डच जीव वैज्ञानिक थे। इन्हे सूक्ष्म-जीव विज्ञान का जनक माना जाता हैं। इनके सूक्ष्मदर्शी यंत्र ने जीव-विज्ञान की दुनिया में क्रांति ला दी थी। बैक्टीरिया के खोजकर्ता भी एंटोनी वॉन ल्यूवेन्हॉक माने जाते है।

06 - एवोगेड्रो :

एवोगैड्रो (Avogadro) इटली के प्रसिद्ध वैज्ञानिक थे। इन्होंने ही अणु की खोज की थी। एवोगैड्रो के फोर्मुले गणित और भौतिकी में पढ़ाये जाते है। एवोगैड्रो आणविक सिद्धांत के लिए सबसे प्रसिद्ध थे, जिन्हें अब अवोगाद्रो के नियम के रूप में जाना जाता है।

07 - केप्लर :

केप्लर (Kepler) महान जर्मन ज्योतिषी, गणितज्ञ एवं खगोलशास्त्री थे। इन्होने ग्रहों की सूर्य के चारो ओर की गति के नियम को समझाया। विश्व में सभी कुछ वृत्ताकार नहीं है। इन्होने बताया की सौर मंडल के सभी ग्रह वृत्ताकार कक्षा में सूर्य की परिक्रमा नहीं करते, अपितु ग्रह एक दीर्घवृत्त पर चलता है, जिसकी नाभि पर सूर्य विराजमान है।

>> जाने अंतरिक्ष के रोचक तथ्य

08 - गैलीलियो गैलीली

गैलीलियो गैलीली (Galileo Galilei) यह इटली के महान वैज्ञानिक एवं खगोलविद थे। इन्होंने कापरनिकस के सिद्धांत जो कि सौरमण्डल के केन्द्र में सूर्य स्थित है, और पृथ्वी उसकी परिक्रमा करती है या सीधे शब्दों में ब्रह्मांड का केन्द्र सूर्य है साबित करने के लिए टेलीस्कोप का आविष्कार किया और अंतरिक्ष का अन्वेषण किया। इनके इन क्रान्तिकारी विचारों के लिए जो चर्च और परम्पराओं में चली आ रही मान्यताओं के खिलाफ थी। उन्हें जेल में डाल दिया गया। इन्होने चन्द्रमा के क्रेटरों और पहाड़ो की खोज की और साथ ही बृहस्पति की चार उपग्रहों की खोज की जिसे गैलिली उपग्रह कहते है।

09 - ग्राहम बेल :

ऐलेक्ज़ैन्डर ग्राहम बेल (Alexander Graham Bell) इन्होंने 18वीं शताब्दी के मध्य में टेलीफोन का आविष्कार कर संचार जगत में क्रान्ति ला दी। इन्हे ऑप्टिकल-फाइबर सिस्टम, फोटोफोन, बेल और डेसिबॅल यूनिट, मेटल-डिटेक्टर आदि के आविष्कार का श्रेय भी उन्हें ही जाता है। ग्राहम बेल की असाधारण प्रतिभा का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि वे महज तेरह वर्ष के उम्र में ही ग्रेजुएट हो गए थे। यह भी बेहद आश्चर्य की बात है कि वे केवल सोलह साल की उम्र में एक बेहतरीन म्यूजिक टीचर के रूप में मशहूर हो गए थे।

10 - जे॰ जे॰ थॉमसन :

जोसेफ़ जॉन थॉमसन (Joseph John Thomson) जिन्होंने इलेक्ट्रॉन की खोज की थी। थॉमसन गैसों में बिजली के चालन पर अपने काम के लिए उन्हें भौतिकी में 1906 नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

11 - टेस्ला :

निकोला टेस्ला (Nikola Tesla) एक सर्बियाई अमेरिकी आविष्कारक, भौतिक विज्ञानी, मैकेनिकल इंजीनियर, विद्युत इंजीनियर थे। टेस्ला की प्रमुख खोज प्रत्यावर्ती धारा (AC) थी। टेस्ला के विभिन्न पेटेंट और सैद्धांतिक कार्य, बेतार संचार और रेडियो के विकास का आधार साबित हुये हैं।

12 - डार्विन :

चार्ल्स डार्विन (Charles Darwin) ये एक अंग्रेज वैज्ञानिक थे जिनके उत्पत्ति के सिद्धांत ने मानव की उत्पत्ति और विकास को क्रान्तिकारी विचार दिए। इन्होने क्रमविकास (evolution) के सिद्धांत का प्रतिपादन किया। चार्ल्स डार्विन आधुनिक विज्ञान के भी जनक हैं।

13 - थॉमस एडिसन :

थॉमस अल्वा एडिसन (Thomas Alva Edison) ये वास्तव में जीनियस थे जिन्होंने अपने जीवन काल में अखबार बेचने से लेकर हजारों वस्तुओं का आविष्कार करने तक का सफर किया। इनके महत्त्वपूर्ण आविष्कार थे - ट्रांसमीटर, मैगाफोन, फोनोग्राफ, इनकैंडेंसेंट बल्ब, सिनेमेटोग्राफ और इलेक्ट्रिसिटी जेनरेटर। इन्हें प्रथम औद्योगिक प्रयोगशाला स्थापित करने का श्रेय दिया जाता है।

14 - कॉपरनिकस :

निकोलस कोपरनिकस (Nicolaus Copernicus) ये पोलैण्ड के मशहूर खगोलविद थे जिन्होंने सूर्य केंद्रित सौरमंडल का विचार रखा। चूंकि इनके विचार पारंपरिक विचारों के सर्वथा विपरीत थे अतः इन्हें काफी मुसीबतें उठानी पड़ी। खासतौर से धार्मिक संस्थाओं ने उनका जीना मुहाल कर दिया था। इन्हे 'आधुनिक खगोल विज्ञान का संस्थापक' माना जाता है। निकोलस पहले युरोपिय खगोलशास्त्री थे जिन्होंने पृथ्वी को ब्रह्माण्ड के केन्द्र से बाहर माना। उन्होंने यह क्रांतिकारी सूत्र दिया था कि पृथ्वी अंतरिक्ष के केन्द्र में नहीं है।

>> सूर्य के बारे में आश्चर्यजनक और रोचक बातें

15 - नोबेल :

अल्फ्रेड नोबेल (Alfred Nobel) ये स्वीडन के एक इंजीनियर तथा कैमिस्ट थे। इन्होंने डायनामाईट और विस्फोट करने वाली जिलेटिन छड़ों का आविष्कार किया। इन्होंने शांति, साहित्य, भौतिकी, रसायनशास्त्र एवं चिकित्सा क्षेत्र में किए गए उच्च कोटि के कार्यों के लिए विश्व प्रसिद्ध नोबेल पुरस्कार की स्थापना की थी।

देखें >> दुनियाभर के वैज्ञानिकों की सूची

16 - न्यूटन :

आइज़क न्यूटन (Isaac Newton) इंग्लैंड के एक वैज्ञानिक थे। जिन्होंने गुरुत्वाकर्षण का नियम और गति के सिद्धान्त की खोज की। जब से शास्त्रीय भौतिकी की नींव पड़ी है तब से गुरुत्वाकर्षण पर किए गए इनके प्रयोग और इनका गति का सिद्धांत गुरुत्वाकर्षण का सार्वभौमिक सिद्धांत बना हुआ है।

17 - मेंडल :

ग्रेगर जॉन मेंडल (Gregor Johann Mendel) यह आस्ट्रेलियाई वैज्ञानिक वंशानुक्रम पर अपने विचारों एवं सिद्धांतों के लिए विख्यात है। इन्होंने एक पीढ़ी से नवजात पीढ़ी में अनुवांशिकीय गुणों, तत्वों का किस प्रकार वितरण होता है इसे ज्ञात करने के लिए जानवरों और वनस्पतियों पर अनेकों प्रयोग किए। उनके कार्यों की महत्ता बीसवीं शताब्दी तक नहीं पहचानी गई बाद में उन नियमों की पुनर्खोज ने उनका महत्व बताया। इन्होने मटर के दानों पर प्रयोग कर आनुवांशिकी के नियम को निर्धारित किया था।

18 - लुई पास्चर :

लुई पास्चर (Louis Pasteur) ये फ्रांस के बायोकेमिस्ट (जीव रसायनशास्त्री) थे जिन्होंने किण्वन पर कार्य किया। इन्होंने तर्क दिया कि सूक्ष्म जीवाणु मानवों में बीमारी का कारण हो सकते हैं। इन्होने जानवरों से इंसानों में फैलने वाली वायरस जनित बीमारियों के लिए दुनिया का पहला टीका (रेबीज) विकसित किया था।

यह लिस्ट अभी और भी है  आप चाहे तो दुनियाभर के सभी प्रमुख वैज्ञानिकों के नाम इस पोस्ट में जाकर देख सकते हैं - लिस्ट देखने के लिए क्लीक करें

Active Study Educational WhatsApp Group Link in India

यूट्यूब चैनल देखने के लिए – क्लिक करें

Share -