Active Study Educational WhatsApp Group Link in India

UPSC परीक्षा की तैयारी कैसे करें? {How to prepare for UPSC exam in Hindi}

PREPARATION FOR UPSC EXAM {संघ लोक सेवा आयोग के लिए तैयारी}

How to prepare for UPSC exam in Hindi

UNION PUBLIC SERVICE COMMISSION (संघ लोक सेवा आयोग) यह EXAM एक सेंट्रल गवर्मेंट डिपार्टमेंट के द्वारा जारी किया जाता है। UPSC के एग्जाम को देने के बाद आप एक गवर्मेंट ऑफिसर जैसे IAS, IPS के पद पर चयनित हो सकते है। UPSC EXAM से आपको एक सम्मानित नौकरी मिल सकती है। हर साल लाखों विद्यार्थी UPSC परीक्षा को देने के लिए फॉर्म अप्लाई करते है, लेकिन पास वही हो पाते है जो कड़ी मेहनत करते है।

UPSC एक कठिन परीक्षा के रूप में देखा जाता है। इसके लिए विद्यार्थियों को 12th पास होना जरुरी है। और ग्रेजुएशन के बाद ही स्टूडेंट्स UPSC एक्साम के लिए eligible हो जाते है सिविल सर्विस एग्जाम को पास करने के लिए 2 से 3 वर्ष का समय लगता है। इसके लिए NCERT के books हेल्पफुल हो सकते है।

UPSC के एग्जाम को पास करने के लिए AGE CRITERIYA रखा गया है। जैसे की genral category - 30, ST-45,OBC-40, SC-45, का लिमिट रखा गया है। इस परीक्षा में सफलता का प्रतिशत बहुत ही कम है। UPSC की परीक्षा के लिए सबसे जरूरी धैर्य का होना है।

UPSC की तैयारी करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण टिप्स-

  • DALIY NEWS PAPER RAEDING
  • COMPLETE SYLLYBUS
  • CONTENTS
  • BOOKS
  • TIME MANAGEMENT
  • MONTHLY MAGAZINE
  • HAND WRITING SKILLS
  • UPSC STEPS
  • INTERWIV

UPSC एग्जाम के लिए स्टूडेंट्स को सिविल सेवा परीक्षा में सबसे जरूरी होता है विषय का अध्ययन इसलिए, विषय का चयन करते समय इस बात ध्यान रखें कि आपको उस विषय में रूचि है या नही। वैसे तो कोई भी विषय अध्ययन के लिए असंभव नहीं है लेकिन फिर भी जिस विषय में आपकी रुचि है उसी विषय का चयन करना आपके लिए फायदेमंद रहता है। सिविल सेवा परीक्षा का सिलेबस बहुत बड़ा होने के कारण पूरे साल भर अध्ययन करना पड़ता है। इसलिए योजना के अनुसार ही चलते हुए पूरे साल अध्ययन करना जरूरी है।

UPSC एग्जाम एक प्रतियोगी परीक्षा है। इस परीक्षा में बहुत सारे प्रतियोगी भाग लेते है। यह परीक्षा केवल कुछ ही पोस्ट के लिए ये UPSC की यह परीक्षा ली जाती है और कुछ ही प्रतिभागी इस परीक्षा में सफल हो पाते है। UPSC की परीक्षा स्टूडेंट्स की बौद्धिक क्षमता का विकास करना ही है। इसमें हमें भारत का इतिहास , भूगोल और भारत की संविधान, अर्थशास्त्र और भारत के बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए ।साथ ही साथ इसमें विश्व का इतिहास, विश्व का भूगोल, संस्कृति सम्बन्धी सारी जानकारी भी होनी चाहिए।

DALIY NEWS PAPER READING–

UPSC की इस परीक्षा में प्रतिभागियों को चाहिए की वे DALIY न्यूज़ पेपर का अध्ययन करें। जिससे की करेंट अफेयर की सारी जानकारी उन्हें मिल सके। और इससे सम्बंधित प्रश्नों के उत्तर का जवाब वो आसानी से दे सके, न्यूज़ पेपर में जैसे की THE TIMES OFF ,INDIA, THE HINDU और भी बहुत सारे ऐसे अखबार है,जो UPSC एग्जाम लिए प्रश्न तैयार करते है ,और इससे जुड़ी सारी जानकारी भी देते है।

UPSC परीक्षा के लिए पुराने वर्षो के प्रश्नपत्र डाऊनलोड करें - लिक्क करें

COMPLIED SYLLABUS -

प्रतिभागी को चाहिए की वे UPSC की तैयारी करने के लिए उनको पुरे SYLLABUS की सम्पूर्ण जानकारी होनी चाहिए। और SYLLABUS अच्छे से याद भी होना चाहिए , इसमें आने वाले एक-एक टॉपिक्स अच्छे से याद होने चाहिए। बार-बार SYLYBUS को पढ़ना भी बहुत महत्त्वपूर्ण होता है। जिससे की यह पता चल सके की कौन से टॉपिक से कौन से प्रश्न आये हुए है।

BOOKS FOR UPSC –

UPSC की तैयारी के लिए सबसे महत्वपूर्ण स्थान पुस्तक रखता है। BOOKS की बात करें तो सिर्फ सिलेक्टेड बुक्स ही CANDIDATES को लेने चाहिये। सभी अलग-अलग बुक्स पढ़ने से अच्छा है की एक सिलेक्टेड बुक्स ही बार बार पढ़े जिससे पढ़ना भी आसन हो सके और समय की बचत हो सके। किसी प्रसिद्ध AUTHOR की बुक्स ही कैंडिडेट्स को पढ़नी चाहिए। इसमें NCERT की बुक्स काफी मददगार साबित हो सकती है। भारत के संविधान के लिए M. LAXMIKANT, भारत के इतिहास के लिए विपिन चन्द्र , मैथ्स के लिए RS AGRWAL , ऐसे ही सिलेक्टेड बुक्स ही पढ़नी चाहिए।

TIME MANAGEMENT-

UPSC जैसे कठिन परीक्षा को पास करने के लिए TIME MANAGEMENT एक बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। बिना TIME MANAGEMENT के इस PAPER को पास नहीं किया जा सकता ,स्टूडेंट्स को चाहिए की वे अपने बिजी SCHEDULE से कितना TIME दे पाते है, और कितना पढ़ पाते है ।

MONTHLY MAGZINE –

UPSC  लिए MONTHLY MAGAZINE को पढ़ना भी बहुत जरूरी हो जाता है इससे पुरे एक MONTH के समसामयिक की सारी जानकारी भी मिलने लगती है। इससे हमें एक ही बुक्स में साड़ी जानकारी मिल जाती है जिससे समय की भी बचत होने लगती है ,PRTIYOGITA DARPAN और भी बहुत सारी MONTHLY Magazine की सहायता ले सकते है।

भारतीय इतिहास से जुडी PDF डाऊनलोड करें - CLICK NOW

WRITING SKILL –

UPSC MAINS की तैयारी के लिए hand writing skill बहुत ही महत्वपर्ण माना जाता है। मैन्स एग्जाम की तैयारी के लिए बहुत ही जरूरी होता है। writing स्किल एक कला भी माना जाता है। लिखने की कला का ज्ञान MAINS के लिए काफी महत्वपूर्ण है। जिससे की UPSC की मैन्स एग्जाम में क्वेश्चन के ANWESRS को किस तरह से इस कला के माध्यम से दिया जा सके इसके लिए विद्यार्थियों को चाहिए की वे लिखने की इस कला का DALIY प्रैक्टिस करे. और अच्छे नंबर स्कोर कर सके।

UPSC EXAM STEPS –

UPSC की इस एग्जाम में 3 स्टेप्स हो सकते है। (1) PREILEMS (2) MAINS (3) INTERWIV,

PREILEMS EXAM-

प्री एग्जाम एक QWALIYFY NATURE का होता है। इसे सिर्फ पास करना होता है। इसमें 200 MARKS के क्वेश्चन पूछे जाते है। कैंडिडेट्स को सिर्फ 150 नो ही पास होने के लिए लाने होते है। इस PAPER में सामान्य ज्ञान , मैथ्स , रेस्सोनिंग और विश्व, और करंट के सारे प्रश्न पूछे जाते है।

MAINS EXAM –

यह पेपर एक स्क्कोर्रिंग पेपर कहलाता है। इसमें 800 नंबर के सभी अलग अलग टॉपिक्स से क्वेश्चन पूछे जाते है। UPSC की पेपर की दृष्टी से देखा जाए तो यह पेपर का मुख्य भाग कहा जाता है। यदि आप पहले चरण को पार कर जाते हैं तो फिर आप मेंस में प्रवेश करते हैं। इस परीक्षा में आपके पास 9 पेपर होते हैं और इसमें 180 से लेकर 200 प्रश्न होते हैं। जहां 9 पेपर के लिए 1750 मार्क्स होते हैं और समय अवधि हर पेपर के लिए 3 घंटे की होती है।

INTERWIV–

INTERWIV जहां पर CANDITES को अपना पर्सनालिटी टेस्ट देना होता है। इसमें कुछ प्रशासनिक अधिकारी होते है जो इन्तेर्विव को लेते है जिसमे कैंडिडेट्स के बारे में कुछ प्रश्न पूछे जाते है जो उनसे सभी तरह से लिंक होते है और सामान्य ज्ञान की जानकारी भी आवयक रूप से पूछी जाती है। यह 200 मार्क्स के होते है। जिसे पास करना जरूरी होता है।

इन्हें भी पढ़े -

Active Study Educational WhatsApp Group Link in India

यूट्यूब चैनल देखने के लिए – क्लिक करें

Share -