Active Study Educational WhatsApp Group Link in India

Insurance kya hai | What is Insurance – प्रकार, फायदे और नुकसान 2022

Insurance kya hai | What is Insurance – प्रकार, फायदे और नुकसान 2022 

आज के इस पोस्ट में हम Insurance kya hai | What is Insurance इंश्योरेंस या बीमा के कितने प्रकार होते हैं Insurance करने के क्या फायदे है साथ ही कुछ इंश्योरेंस या बीमा के नुकसान के बारे में भी जानेंगे। दोस्तों मैंने पिछले चार सालो से Insurance(बीमा) के अलग अलग पालिसी का उपयोग कर रहा हूँ | मुझे सबसे जरूरी हेल्थ और लाइफ बीमा लगता हैं | मैं अपने सभी अनुभवो से आपको सभी प्रकार बीमा यानि की Insurance kya hai | What is Insurance – प्रकार, फायदे और नुकसान 2022 की पूरी जानकारी देने वाला हूँ | 

Insurance kya hai -What is Insurance


यदि आप भी किसी भी प्रकार के Insurance की पालिसी ले चुके हैं या लेनें वाले हैं तो निचे दिए गये सभी पॉइंट को ध्यान से जरुर पढ़ें –

Insurance Table of Content – 

  • what is Insurance - Insurance kya hai (इंश्योरेंस)
  • Type of what is Insurance | इंश्योरेंस के प्रकार
  • Need for insurance | बीमा की आवश्यकता 
  • Features of Insurance | बीमा की विशेषताएँ 
  • Benefit of Insurance | Insurance ke Fayde
  • Insurance limits | बीमा की सीमाए 
  • Disadvantages of Insurance | Insurance Ke Nuksan 
  • Insurance FAQs

Insurance kya hai | What is Insurance

बीमा (इंश्योरेंस) उस साधन को कहते हैं जिसके द्वारा कुछ शुल्क (जिसे प्रीमियम कहते हैं) देकर हानि का जोखिम दूसरे पक्ष (बीमाकार या बीमाकर्ता) पर डाला जा सकता है। जिस पक्ष का जोखिम बीमाकर पर डाला जाता है उसे 'बीमाकृत' कहते हैं। बीमाकार आमतौर पर एक कंपनी होती है जो बीमाकृत के हानि या क्षति को बांटने को तैयार रहती है और ऐसा करने में वह समर्थ होती है।

अन्य शब्दों में – बीमा क्या हैं ? What is Insurance?

बीमा वास्तव में बीमाकर्ता और बीमाकृत के बीच अनुबंध है जिसमें बीमाकर्ता बीमाकृत से एक निश्चित रकम (प्रीमियम) के बदले किसी निश्चित घटना के घटित होने (जैसे कि एक निश्चित आयु की समाप्ति या मृत्यु की स्थिति में) पर एक निश्चित रकम देता है या फिर बीमाकृत की जोखिम से होने वाले वास्तविक हानि की क्षतिपूर्ति करता है।

अक्सर मेरे दोस्त मुझसे पूछते हैं की जनरल इंश्योरेंस क्या है, बीमा क्या है, टर्म इंश्योरेंस क्या है, हेल्थ इंश्योरेंस क्या है लाइफ इंश्योरेंस क्या है बीमा के सिद्धांत क्या हैं इन सभी सवालों के जवाब आपको निचे मिल जायेगा | 

बीमा के आधार के बारे में सोचने पर पता चलता है कि बीमा एक तरह का सहयोग है जिसमें सभी बीमाकृत लोग, जो जोखिम का शिकार हो सकते हैं, प्रीमियम अदा करते हैं जबकि उनमें से सिर्फ कुछ (बहुत कम) को ही, जो वास्तव में नुकसान उठाते हैं, मुआवजा दिया जाता है। 

वास्तव में जोखिम की संभावना वालों की संख्या अधिक होती है लेकिन किसी निश्चित अवधि में उनमें से केवल कुछ को ही नुकसान होता है। बीमाकर्ता (कंपनी) बीमाकृत पक्षों के नुकसान को शेष बीमाकृत पक्षों में बांटने का काम करती है।

तो दोस्तों ये थी जानकारी Insurance kya hai | What is Insurance आगे अब हम जानेंगे की बीमा की विशेषताएँ (Features of Insurance) कौन कौन सी हैं - 

बीमा की विशेषताएँ (Features of Insurance)

1. जोखिम से सुरक्षा - बीमा जोखिमों से का सशक्त उपाय है। जीवन में व्याप्त सभी अनिश्चितताओं से व्यक्ति को चिन्तामुक्त करता है। ये जोखिमें जीवन , स्वास्थ्य, अधिकारों तथा वित्तीय साधनों, सम्पत्तियों से सम्बन्धित हो सकती है। अत: इन सभी जोखिमों से सुरक्षा का एक उपाय बीमा ही है।

2. जोखिमों को फैलाने का तरीका - बीमा में सहकारिता की भावना के आधार पर “एक सब के लिए व सब एक के लिए कार्य किया जाता है। 

3. घटना के घटित होने पर ही भुगतान - बीमा में घटना के घटित होने पर ही भुगतान किया जाता है। जीवन बीमा में घटना का घटित होना निश्चित है, जैसे - व्यक्ति की मृत्यु होना, किसी विशेष बीमारी से ग्रसित होना, बीमा अवधि का पूर्ण हो जाना तो ऐसी स्थिति में बीमित को भुगतान होता ही है। परन्तु सामान्य बीमों में घटना के घटित होने पर ही भुगतान होगा अन्यथा बीमित भुगतान हेतु उत्तरदायी नहीं माना जायेगा।

4. सामाजिक समस्याओं के निवारण का उपाय - समाज में व्याप्त अनेक सामाजिक समस्याओं का निवारण बीमा के द्वारा किया जाता है क्योंकि बीमा से समाज की अनिश्चितताओं को निश्चिताओं में व जोखिमों को कम किया जाता है।

5. बीमा कानून अनिवार्य - आधुनिक युग में बीमा का क्षेत्र विस्तृत होता जा रहा है इसके साथ ही सरकारों का कर्तव्य होता जा रहा है कि बीमा से सम्बन्धित नियामक अधिनियम बनाये। भारत में भी जीवन बीमा, समुद्री बीमा, साधारण बीमा हेतु अधिनियम बनाये गये हैं। इसके अतिरिक्त बीमा नियन्त्रण एवं विकास प्राधिकरण” द्वारा सम्पूर्ण बीमा व्यवसाय का नियमन एवं नियन्त्रण किया जाता है।

तो दोस्तों ये थी जानकारी Insurance kya hai | What is Insurance और बीमा की विशेषताएँ (Features of Insurance)आगे अब हम जानेंगे की  बीमा के प्रकार (Type of Insurance)कौन कौन सी हैं - 

बीमा के प्रकार (Type of Insurance)

  1. जीवन बीमा (Life Insurance)
  2. सामान्य बीमा (General Insurance)

1.जीवन बीमा क्या हैं ? What is Life Insurance? 

लाइफ इंश्योरेंस (जीवन बीमा) क्या है? इसका क्या मतलब होता है?

लाइफ इंश्योरेंस (जीवन बीमा) पॉलिसी एक व्यक्ति और एक इंश्योरेंस प्रोवायडर (बीमा प्रदाता) के बीच किया गया एक कॉन्ट्रैक्ट (अनुबंध) है, जिसमें इंश्योरेंस कंपनी पॉलिसीधारक को मासिक शुल्क/फीस (जिसे प्रीमियम कहा जाता है) के एवज में आर्थिक सुरक्षा ) देती है।

लाइफ इंश्योरेंस (जीवन बीमा) के विभिन्न प्रकार 

  • एंडोमेंट प्लान– इंश्योरेंस और सेविंग्ज़
  • चाइल्ड प्लान (बच्चों का प्लान) – बच्चों के लाइफ गोल्स (जीवन ध्येय) जैसे शिक्षा और शादी
  • टर्म लाइफ इंश्योरेंस प्लान – प्योर रिस्क कवर
  • मनी बैक– इंश्योरेंस के साथ  पीरियोडिक रिटर्न्स (समय समय पर रिटर्न्स)
  • यूनिट लिंक्ड इंश्योरेंस प्लान  (यूएलआईपी/यूलिप) – इंश्योरेंस के साथ साथ इन्वेस्टमेंट (निवेश) ऑपोर्चुनिटी (के अवसर)
  • रिटायरमेंट (सेवानिवृत्ति) प्लान– रिटायरमेंट के बाद इनकम (आय)
  • होल लाइफ इंश्योरेंस (संपूर्ण जीवन बीमा)– लाइफ एश्योर्ड के लिए होल लाइफ कवरेज /बीमित व्यक्ति के लिए संपूर्ण लाइफ कवरेज

लाइफ इंश्योरेंस के 5 प्रकार नीचे दिए गए हैं होल लाइफ पॉलिसी - टर्म लाइफ पॉलिसी ,एंडोमेंट प्लान, यूनिट लिंक्ड इंश्योरेंस प्लान,मनी-बैक पॉलिसी

 सामान्य बीमा (General Insurance) क्या हैं ?  

सामान्य बीमा जीवन के अलावा अन्य वस्तुओं के लिए कवरेज प्रदान करता है या अनिवार्य रूप से जीवन बीमा के अलावा अन्य को कवर करता है। इसमें व्यक्तिगत स्वास्थ्य बीमा, आग / प्राकृतिक आपदाओं आदि के खिलाफ संपत्ति का बीमा, यात्रा या यात्रा के दौरान कवर शामिल हो सकते हैं,व्यक्तिगत दुर्घटना बीमा, देयता बीमा आदि।

सामान्य बीमा General Insurance के अंतर्गत -Health Insurance, Vehicle Insurance, Travel Insurance, Home Insurance, Corporate. Insurance आदि आता हैं

घर का बीमा क्या हैं ? Need for insurance

घर का बीमा अर्थात होम इंश्योरेंस में जो बीमा किया जाता है उसमे आपके बिल्डिंग का सामान और कंस्ट्रक्शन के अनुसार पॉलिसी बनाई जाती हैं। इसमें बीमा देने वाली कंपनी घर का या घर के सामान दोनो चीज का नुकसान होने पर देती हैं।

बीमा की आवश्यकता कब और कैसे 

बीमा की आवश्यकता व्यक्तियों का जीवन अनेक प्रकार की अनिश्चितताओं एवं जोखिमों से घिरा हुआ है। उसे कुछ सम्पत्ति से सम्बन्धित जोखिमें है तो कभी जीवन को जोखिम है अत: वह इन जोखिमों के प्रति कै से सुरक्षा प्राप्त करे इसी विचार ने बीमा को एक आवश्यकता बना दिया है। 

बीमा की आवश्यकता वर्तमान औद्योगिक विकास का आधार ही प्रत्यक्ष व परोक्ष रूप से यदि बीमा को कहा जाय तो कोई अतिशयोक्ति नही होगी। मनुष्य जीवन को तनाव मुक्त करने हेतु बीमा एक महती आवश्यकता बन गया है।

बीमा की आवश्यकता निम्न कारणों से होती हैं - 

  • जोखिमों के विरूद्ध सुरक्षा प्राप्ति हेतु  - किसी भी जोखिम से बचा जा सकता हैं | 
  • संभावित जोखिमों से सुरक्षा प्राप्ति हेतु 
  • जोखिमों के प्रभाव को कम करने हेतु  
  • सुरक्षा के लिए अतिरिक्त पूंजी की आवश्यकता से मुक्ति हेतु 
  • वृहत स्तरीय उपक्रमों के विकास हेतु आवश्यक 
तो दोस्तों ये थी जानकारी Insurance kya hai | What is Insurance और बीमा की विशेषताएँ (Features of Insurance), बीमा के प्रकार (Type of Insurance) आगे अब हम जानेंगे की Benifits of Insurance | Insurance के फायदेकौन कौन सी हैं - 

Benifits of Insurance | Insurance के फायदे 

1.जोखिम में पूंजी की कमी से बच सकते हैं।
2.पैसे की वृद्धि का अच्छा उपाय हैं।
3.हेल्थ और आगे भविष्य का खतरा कम हो जाता हैं। 
4.हमारे लाखो रूपये बच जाते हैं। 

बीमा के क्या कार्य है? What is the function of insurance?

बीमा का प्राथमिक कार्य जैसा कि हम किसी बीमा के बारे में सोचते हैं। एक भविष्य के जोखिमों के बारे में बीमित और बचाव महसूस करता है क्योंकि किसी को भविष्य के किसी भी नुकसान के लिए मुआवजा दिया जाना निश्चित है। इसलिए भविष्य के जोखिमों, दुर्घटनाओं और अनिश्चितता से सुरक्षा प्रदान करना बीमा का प्राथमिक कार्य है।  

यह बीमा करके गिर जाने या कोई दुर्घटना हो जाने, सामान के चोरी हो जाने, सामान के जल जाने या या किसी भी ऐसी असुविधा में काम आता है। जिसमें घर या अंदर रखे सामान का नुकसान हो गया हो आदि |

तो दोस्तों ये थी जानकारी Insurance kya hai | What is Insurance और बीमा की विशेषताएँ (Features of Insurance), बीमा के प्रकार (Type of Insurance) आगे अब हम जानेंगे की बीमा की सीमाएँ (Insurance Limit) कौन कौन सी हैं -

बीमा की सीमाएँ (Insurance Limit)

अनिश्चितताओं एवं आशंकाओं से भरे जीवन में बीमा अत्यधिक महत्वपूर्ण है , आज बीमा (Insurance) - सम्पूर्ण व्यावसायिक जगत एवं मानव समु दाय की प्राथमिक आवश्यकता बन गया है फिर भी बीमा की अपनी कुछ सीमाएँ है जिनके कारण बीमा के वांछित लाभ नही मिल पाते हैं। बीमा की कुछ सीमाएं इस प्रकार है -

1. सभी जोखिमों का बीमा नहीं कराया जा सकता - जीवन में अनेक जोखिमें विद्यमान है परन्तु सभी का बीमा सम्भव नहीं है केवल शुद्ध जोखिमों का ही बीमा करवाया जा सकता है , परिकल्पी जोखिमों का बीमा नहीं करवाया जा सकता है।

2. ऊंची प्रीमियम दरें - दे श में जीवन बीमा (Insurance)  के प्रति लोगों की विशेष रूचि नहीं है। वाहन बीमा भी कानूनी अनिवार्यता के कारण करवाया जाता है। 

3. बीमा की ऊंची संचालन लागतें - बीमा (Insurance) कम्पनियां प्रीमियम का लगभग 20 प्रतिशत भाग अपने संचालन पर ही खर्च कर दे ती है। जिससे अन्तत: प्रीमियम दरों में वृद्धि होती है।

6. बीमा की सफलता - बीमा की सफलता तभी संभव है जब समान प्रकार की जोखिमों से घिरे व्यक्तियों का बड़ा समूह हो। यदि किसी एक व्यक्ति या बहुत कम व्यक्तियों को जोखिम हो तो उनका बीमा करना संभव नहीं होता है।

7. बीमा वित्तीय मूल्य - किसी घटित होने वाली घटना की वास्तविक हानि का मुद्रा में मापन हो सके तो ही बीमा संभव है। इस प्रकार केवल भौतिक हानियों का बीमा, पर अमौद्रिक हानियों जैसे मानसिक पीड़ा, उत्पीडन, तनाव, चिन्ता, आदि की क्षतिपूर्ति का मापन व बीमा दोनों ही संभव नहीं है।

8. बीमा पत्र सहयोग - निजी बीमाकर्ता कुछ विशिष्ट प्रकार की जोखिमों का बीमा नहीं कर सकते हैं , उनमें सरकारी सहयोग की आवश्यकता होती है। जैसे -बेरोजगारी 

insurance kya hai | insurance kya hai in english | term life insurance kya hai | health insurance kya hai life insurance kya hai | sbi life insurance kya hai |

FAQs

क्या कोई बीमा (Insurance)अनिवार्य है? 

>>जी हाँ, वाहनों के मालिकों के लिए वाहन बीमा पॉलिसी खरीदना अनिवार्य है. 

जीवन बीमा कितने साल का होता है?

>>लगभग सभी इंश्योरेंस कंपनी 15 साल से 30 साल अवधि की टर्म पॉलिसी दे देती है। एंडोमेंट पॉलिसी लेने के लिए कम से कम उम्र 8 की होनी चाहिए और ज्यादा से ज्यादा 60 साल उम्र तक के व्यक्ति को ही पॉलिसी दी जाती है। और इस पॉलिसी की अवधि लगभग 10 से 25 साल तक होती है। (Insurance kya hai)

List of Insurance Companies 

>>Life Insurance Companies 

>>General Insurance Companies 

>>Health Insurance Companies 

>>Reinsurance Companies

Insurance kya hai | What is Insurance आगे अब हम जानेंगे की बीमा की विशेषताएँ (Features of Insurance) कौन कौन सी हैं की इस जानकारी को सोशल मीडिया जैसे की Whatsapp & FaceBook में शेयर जरुर करें -Insurance kya hai | What is Insurance – प्रकार, फायदे और नुकसान 2022 

किसी भी कोर्स का पीडीऍफ़ डाउनलोड करें और पूरी जानकारी पायें

LLB course, B.Com BE, PhD, B.Ed, NDA, PCS, B.Sc. कोर्स, M.Sc. कोर्स, MS, MCA, MBA, BHMS, CS, BBA, BCA, BA, B.Tech. BPT, DM, ITI, M.Arch. M.Phil, MDS, PGDCA, M.Com. PGDM, M.Pharm. कोर्स, B.P.Ed. course, BHM कोर्स, MPT, CA, BDS, NEET जैसे सभी कोर्स की पूरी जानकारी को पीडीऍफ़ डाउनलोड (PDF Download) करके पढ़ सकते हैं.

All type Courses PDF Download in Hindi -

Course PDF Download in Hindi
LLB कोर्स - PDF Download
B.Com कोर्स - PDF Download
BE कोर्स - PDF Download
PhD कोर्स - PDF Download
B.Ed कोर्स - PDF Download
NDA कोर्स - PDF Download
PCS कोर्स - PDF Download
B.Sc. कोर्स - PDF Download
M.Sc. कोर्स - PDF Download
MS कोर्स - PDF Download
MCA कोर्स - PDF Download
MBA कोर्स - PDF Download
BHMS कोर्स - PDF Download
CS कोर्स - PDF Download
BBA कोर्स - PDF Download
BCA कोर्स - PDF Download
BA कोर्स - PDF Download
B.Tech. कोर्स - PDF Download
BPT कोर्स - PDF Download
निचे और कोर्स का लिस्ट है -
DM कोर्स - PDF Download
ITI कोर्स - PDF Download
MA कोर्स - PDF Download
M.Arch. कोर्स - PDF Download
M.Phil. कोर्स - PDF Download
MDS कोर्स - PDF Download
PGDCA कोर्स - PDF Download
M.Com. कोर्स - PDF Download
PGDM कोर्स - PDF Download
Pharm.D कोर्स - PDF Download
M.Pharm. कोर्स - PDF Download
B.P.Ed. कोर्स - PDF Download
BHM कोर्स - PDF Download
MPT कोर्स - PDF Download
CA कोर्स - PDF Download
BDS कोर्स - PDF Download
NEET कोर्स - PDF Download

Insurance kya hai | What is Insurance – प्रकार, फायदे और नुकसान 2022 Insurance kya hai | What is Insurance – प्रकार, फायदे और नुकसान 2022